तीन बात

तीन बात हमेशा गौरतलब है


तीन मार्ग मोक्ष के है             
सच्चा श्रद्धान
सच्चा ज्ञान
सच्चा आचरण
तीन काल है
भविष्य  काल
भूत काल
वर्तमान काल

तीन दीर्घायु होते है
हिंसा न करने वाले
झूठ न बोलने वाले
दान-पुण्य करने वाले
तीन बूढ़े होते है
आयु के बूढ़े
ज्ञान के बूढ़े
सदाचार के बूढ़े
तीन प्रकार के संयम है
मनो-गुप्ती: मन का संयम
वचन गुप्ती: वचन का संयम
काय- गुप्ती: शारीर का संयम
तीन पर सदा अमल करो
अहिंसा पर
 सत्य पर
 ब्रह्मचर्य पर



तीन बाते ध्यान में रखो
भगवान का नाम
दुसरो का सम्मान
अपने सभी दोष
तीन पर कभी दया न करो
 अपने आलस्य पर
 अपने पाप पर
 अपने उदंडता पर
तीन से सदा डरो
अभिमान से
लोभ से
दंभ से
तीन महापुरुष कहलाते है
 दुसरो पर उपकार करने वाले
 अपने द्वारा किये उपकार को भूल जाने वाले
 द्वार पर आये शत्रु को भी आदर देने वाले
तीन सदा हृदय में रखो
दया को
क्षमा को
विनम्रता को



तीन से सदा सच्चे रहो
हाथ से
 कान से
 जीभ से



तीन पर सदा विजय पाओ
 मन पर
 वाणी पर
 शरीर पर



तीन को हृदय से निकल दो
 राग को
 द्वेष को
 डाह को


तीन की संगती बहुत ख़राब है
जुवारी का संग
शराबी का संग
व्यभिचारी का संग
तीन का भरण-पोषण कर्तव्य है
 माता-पिता का
 बाल-बच्चो का
 दिन-दुखियो का




तीन आंसू पवित्र कहलाते है
प्रेम के
करुना के
सहानभूति के



तीन मौको पर रुको
क्रोध के समय
काम-वासना के समय
लोभ के समय



नरक के दरवाजे तीन ही है
काम
क्रोध
लोभ

 





6 comments:

  1. padhne sunne aur dekhne main bahut acche lagein magar jivan main apnanein ke nam par koi kadam nahin nazar aa raha hain insan dharmik hain par naiteek nahin

    ReplyDelete
  2. ांअपके ब्लाग देख कर अभोभूत हूँ। बहुत सुन्दर सूत्र हैं। धन्यवाद।

    ReplyDelete
  3. कुछ और संकलन भेज रहा हूं, अच्छा लगे तो जोड दें
    मैं अपने ब्लोग पर भी प्रकाशित कर रहा हूं।

    तीन निकल वापस नहिं लौटते
     बंदूक से गोली
     मुहं से बोली
     तन से प्राण
    तीन सदा स्मरण रहे
     कर्ज़
     फ़र्ज़
     मर्ज़
    तीनों का सम्मान करें
     माता
     पिता
     गुरू
    तीन को कभी छोटा न समझो
     कर्ज़
     शत्रु
     बीमारी
    तीन को कोई चुरा नहिं सकता
     ज्ञान
     कौशल
     अक्ल

    तीनों को वश में रखें
     मन
     काम
     क्रोध
    तीन प्रतिक्षा नहिं करते
     समय
     ग्राहक
     मौत
    तीन जीवन उपचार
     कम खाना
     गम खाना
     नम जाना

    ReplyDelete
  4. सुन्दर,,,,,
    तीन प्रायश्चित्त कौन से हैं ?

    ReplyDelete